Bollywood Lyrics

“Phir Se Ud Chala Full Song Rockstar” | Ranbir Kapoor – Mohit Chauhan Lyrics

“Phir Se Ud Chala Full Song Rockstar” | Ranbir Kapoor – Mohit Chauhan Lyrics in English

"Phir Se Ud Chala Full Song Rockstar" | Ranbir Kapoor -  Mohit Chauhan Lyrics
Singer Mohit Chauhan
MusicA R Rahman

Phir se ud chala
Ud ke chhoda hai jahaan neeche main tumhare ab hoon hawaale
Door door log baag meelo’n door ye waadiyaanPhir dhuaan dhuaan tan har badli chali aati hai chhoone


Par koi badli kabhi kahin kar de tan geela ye bhi na ho…Kisi manzar par main ruka nahi
Kabhi khud se bhi mein mila nahi
Ye gila tto hai main khafa nahi
Shehar ek se gaa’nv ek se
Log ek se naam ek ooo
Ooo o…
Phir se udd chala


Mitti jaise sapne ye kitta bhi palko se jhaado
Phir aa jaate hain
Kitte saare sapne kya kahoon kis tarah se maine
Tode hain chhode… hain kyun
Phir sath chalein mujhe leke ude ye kyunO o…
Kabhi daal daal kabhi paat paat
Mere saath saath phire dar dar ye
Kabhi sehra kabhi saawan


Banu raawan jeeyun mar mar ke
Kabhi daal daal kabhi paat paat
Kabhi din hai raat kabhi din din hai
Kya sacch hai, kya maayaHai daata, hai daata
Idhar udhar titar bitar
Kya hai pata hawa le hi jaaye teri ore

“Phir Se Ud Chala Full Song Rockstar” | Ranbir Kapoor – Mohit Chauhan Lyrics in Hindi


फिर से उड़ चला
उड़ के छोड़ा है जहां नीचे
मैं तुम्हारे अब हूँ हवाले हवा
दूर-दूर लोग-बाग़ मीलों दूर ये वादियाँ

कर धुंआ धुंआ तन हर बदली चली आती है छूने
और कोई बदली कभी कहीं कर दे तन गीला ये है भी ना हो
किसी मंज़र पर मैं रुका नहीं
कभी खुद से भी मैं मिला नहीं
ये गिला तो है मैं खफ़ा नहीं
शहर एक से, गाँव एक से
लोग एक से, नाम एक
फिर से उड़ चला

मिट्टी जैसे सपने ये कित्ता भी
पलकों से झाड़ो फिर आ जाते हैं
इत्ते सारे सपने क्या कहूँ
किस तरह से मैंने तोड़े हैं छोड़े हैं क्यूँ
फिर साथ चले, मुझे ले के उड़े, ये क्यूँ

कभी डाल-डाल, कभी पात-पात
मेरे साथ-साथ, फिरे दर-दर ये
कभी सहरा, कभी सावन
बनूँ रावण क्यूँ मर-मर के
कभी डाल-डाल, कभी पात-पात
कभी दिन है रात, कभी दिन-दिन है
क्या सच है, क्या माया है दाता

इधर-उधर तितर-बितर
क्या है पता हवा लिए जाए तेरी ओर
खींचे तेरी यादें तेरी ओर
रंग बिरंगे वहमों में मैं उड़ता फिरूं

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close