Sad Shayari- ग़म शायरी

sad shayari in hindi

Hindi Sad Shayarisad hindi shayari

हर वक्त कोशिश रहती है की कोई
मेरा दर्द न देख ले
कभी-कभी लगता है की कोई मेरा
भी होता दर्द बाटने वाला

लिख देता हूँ दर्द की कही थोड़ा कम
हो जाये
कम्बख़त जब भी लिखने बैठता हूँ
दर्द उसकी याद मैं और मचलता है

देखा हमने उन आँखों उस चेहरे
को आज फिर से
बिछड़ कर मुझ से दर्द वो भी
कमाल के सह रही है

तुमने जितना मेरे इश्क़ को बदनाम करना
था कर लिया
अब तुम देखो बेवफाई को हम
किस तरह महशूर करते है

आँसू है की मेरे कर देते है बया दर्द की
दास्ता
मुस्कुराहट का क्या है वो तो हम झूठी ही
दिखा देते है

झूठ , धोका, मक्कारी और बेवफाई ये सब
हुनर थे उस में
गर होता हुनर साथ निभाने का तो यक़ीनन
जिंदगी कुछ और होती

मुझ को को खुद मिटाने के लिए उसने
क्या-क्या नहीं किया होगा
जहर का एक-एक कतरा खुद को ख़त्म
करने के लिए पिया होगा

नाम मेरा भी आना चाहिए दर्द-ऐ
मोहोब्बत की किताब मै
मैंने भी उसकी याद में पल -पल दर्द-ऐ
दिल सहा है

आज तो हद ही हो गई उसने कहा आखिर
कौन हो तुम
तू बेवफा है ये जानते हुए भी जिसने प्यार
किया वो हूँ मैं

सीने में मेरे आज फिर एक हलचल सी हो
रही है
लगता है फिर से इश्क़ में दर्द सहने का
वक्त आ गया है

कैसे कह दूँ उसे वापस आजाओ तेरे
बिना जीना नामुमकिन है
अगर उसके पैरो में गिर गया तो फिर
मेरी मोहोब्बत की तौहीन होगी

हँसते हुए दर्द को छुपाना तो अब मेरी
आदत बन चुकी है
ये आदत मुझे कितना दर्द देती है ये सिर्फ
मैं ही जनता हूँ

फर्क नहीं पड़ता अब चाहे कितने भी दर्द दे
तू मुझे
मुझे तुम से दर्द के सिवा कुछ और की
उम्मीद ही नहीं

लिखा हे बहोत अंदर पर, होटोपे ना बया हो वो मंझर हू मे..करता हू दुवा तेरे खुशहाली की भले खुद थोडा बंजर हू मे..मेरे हाल-ऐ-दर्द ये बया हे शहर मे कुछ यु दोस्त दो बुंद प्यास हे मुझे और ,बेबस तडपता समुंदर हू मे

likha he bahot andar par, hotope na baya ho vo manzar ho me..karata hoo duva aapakee khushahaalee kee bhale hee thoda banjar hoo me..mere haal-e-dard ye baya he shahar me kuchh dost do bund pyaas he mujhe aur , mandas tadapata samundar hoo me.

Hindi Sad Shayari or Dardbhari Shayari
Hindi Sad Shayari

❤जिसको आज मुझमे हजारो गलतिया नजर आती हैं कभी उसी ने कहा था तुम जैसे भी हो मेरे हो

कमाल की मोहब्बत थी मुझसे उसको अचानक ही शुरू हुई और बिना बताये ही ख़त्म हो गई


मैं बैठूंगा जरूर महफ़िल में मगर पियूँगा नहीं क्योंकि मेरा गम मिटा दे इतनी शराब की औकात नहीं


मेरी गलती बस यही थी के मैंने हर किसी को खुद से ज़्यादा जरुरी समझा


उस मोड़ से शुरू करनी है फिर से जिंदगी जहा सारा शहर अपना था और तुम अजनबी

Sad Shayari For Girlfriend

अपनी तन्हाई में तनहा ही अच्छा हूँ मुझे ज़रूरत नहीं दो पल के सहारो की


जिंदगी से सिकवा नहीं की उसने गम का आदी बना दिया गिला तो उनसे है जिन्होंने रौशनी की उम्मीद दिखा के दीया ही बुझा दिया

सच्ची मोहब्बत में प्यार मिले न मिले लेकिन याद करने के लिए एक चेहरा जरूर मिल जाता है


जरूरी नहीं जो ख़ुशी दे उसी से मोहब्बत हो प्यार तो अक्सर दिल तोड़ने वाले से भी हो जाता है


हर दर्द से बड़ा होता है ये जुदाई का दर्द क्योंकि इसमें एक लम्हा जीने के लिए सौ बार मरना पड़ता है

इतना भी दर्द न दे ऐ जिंदगी इश्क़ ही किया था कोई क़त्ल तो नहीं


तुम्हें चाहा तो बस चाहा इतना कि, किसी और को चाहने की चाहत ना रही.


शिकायतों की पूरी किताब तुम्हें सुनानी है, फुर्सत में अगली जिंदगी सिर्फ मेरे लिए लेकर आना!


बात करने को तरसा हूं, आवाज़ सुनने को तरसोगी!!


ये इश्क मोहब्बत की, रिवायतें भी अजीब है.. पाया नहीं है जिसको उसे खोना भी नहीं चाहते!


फायदा बहुत गिरी हुई चीज है, लोग उठाते ही रहते हैं..


काश ये सिलसिला हो जाए, मैं मिट जाऊं या फासला घट जाए

ना  मेरी जिंदगी में कोई आएगा और न
कोई अब लौट कर जायेगा
वादा किया है जो मौत से मेरा जिस्म उस
वादे को जरूर निभाएगा
Hindi Sad Shayari

2 Line sad Shayar

ना मेरी जिंदगी में कोई आएगा और न
कोई अब लौट कर जायेगा
वादा किया है जो मौत से मेरा जिस्म उस
वादे को जरूर निभाएगा

मैं इश्क़ हूँ तुम्हारा चलो तुम फिर मेरी
सज बन जाओ
मैं तुम्हारा होना चाहता हूँ ये बात तुम
अपने आप समाज जाओ

मेरे हांथों में हाथ दिया है थोड़ी दिल में भी
जगह दे दो
की कल को मुझे मौत भी आए तो तेरे दिल
में दफ़न हो जाऊ

नहीं इश्क़ का दर्द लज़्ज़त से खाली ,
जिससे ज़ौक़ है वो मज़ा जनता है .

तुम्हारे पास नहीं तो फिर किस के पास है .,?
वह टुटा हुवा दिल आखिर गया कंहा .?

बोहत नज़दीक हो के भी वो इतना दूर है मुझसे ,
इशारा हो नहीं सकता , पुकारा जा नहीं सकता ….!!

कोण आएगा अब ये दिल तुझ को तसल्ली देने ,
तेरी उदास तबियत की खबर किस को है …..! 🙁

तहरीर में सिमटे हैं कहाँ दिलों क दर्द ,
बेहला रहा हूँ खुद को ज़रा काग़ज़ों क साथ ..! —

लो फिर मेरी नींद का इम्तेहान ,
इस बार भी खाबों मई लाएंगी आपको .

तुम्हारी बात लम्बी है दलीले हैं बहाने हैं ,
हमारी बात इतनी है हमारी आरज़ू तुम हो …

बुन कर आंसू तुम्हारी याद फिर उमड़ आयी ,
फिर वही शाम , वही दर्द , वही तन्हाई ..

मैं उसकी ज़िन्दगी से चली जाऊ ये उसकी दुआ थी ,
और उसकी हर दुआ कबूल हो ये मेरी दुआ थी …

4 LINE SAD HINDI SHAYARI

कुछ लोगो को मेरे लफ़्ज अपने दर्द
का अहसास दिलाते है
ये वो लोग है जिन्होंने सहा है मेरी
तरह दर्द बेइंतेहा

हंस देते है झूटी हंसी अपनों को
खुश करने के लिए साहब
वरना उसने जो दर्द दिया वो
घुट-घुट-कर मरने के लिए काफी था

तू अब मुझे धोका दे या साथ दे मुझे फर्क
ही नहीं पड़ता
तुज़से जो उम्मीदें थी वो मेरी कब के
दफ़न हो चुकी है

Dard Bhari Shayari Hindi

Dard Bhari Shayari Hindi

Agar Mohabbat Ki Hadd Nahin Koi,
Toh Dard Ka Hisaab Kyun Rakhoon.
अगर मोहब्बत की हद नहीं कोई,
तो दर्द का हिसाब क्यूँ रखूं।

Naseehat Achchi Deti Hai Duniya,
Agar Dard Kisi Ghair Ka Ho.
नसीहत अच्छी देती है दुनिया,
अगर दर्द किसी ग़ैर का हो।

Diljalo Se Dillagi Achhi Nahi,
Rone Walon Se Hansi Achhi Nahi.
दिलजलों से दिल्लगी अच्छी नहीं,
रोने वालों से हँसी अच्छी नहीं।

Haal Puchha Na Khairiyat Puchhi,
Aaj Bhi Usne Haisiyat Puchhi.
हाल पूछा न खैरियत पूछी,
आज भी उसने हैसियत पूछी।

Maan Leta Hoon Tere Vaade Ko,
Bhool Jata Hoon Main Ke Tu Hai Wahi.
मान लेता हूँ तेरे वादे को,
भूल जाता हूँ मैं कि तू है वही।

Shayari Sangrah In Hindi

न तस्वीर है आपकी जो दीदार किया जाये
न आप पास हो जो प्यार किया जाये
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

हम नादान थे जो उसको अपना हमसफर समझ बैठें
वो चलते तो हमारे साथ थे,मग़र किसी ऒर कि तलाश मेँ
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

काश तूम पूछो क्या चाहिए
मे हाथ पकड कर कहु बस तेरा साथ चाहिए
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

ख़वाहिश -ऐ -ज़िन्गागी बस इतनी सी है अब मेरी
की साथ तेरा हो और ज़िन्दगी कभी खत्म न हो
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह.

JAB MOHABBAT KISI KE SATH HOTI HAI
TO BAS DIL KO USKI AAS HOTI HAI
KABHI DEKHNA CHAND KO GAUR SE
CHAND KE PASS CHANDNI HOTI HAI.
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

Yeh Zarrori Nahi K Tum Ishq Mei Taaj Banwaao
Zarrori Toh Yeh Hai Ki, Ishq Mein Bas Tum Khud Mit Jao
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

Maein Saans Leta Hoon..Teri Khushboo Aati Hai
Ek Mehka Mehka Sa..Paigaam Laati Hai
Meri Dil Ki Dhadkan Bhi..Tere Geet Gaati Hai
Pal Pal Dil Ke Paas Tum Rehti Ho.
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

Shayari Sangrah

साथ अगर दोगे तो मुस्कुराएंगे ज़रूर
प्यार अगर दिल से करोगे तो निभाएंगे ज़रूर
कितने भी काँटे क्यों ना हों राहों में
आवाज़ अगर दिल से दोगे तो आएंगे ज़रूर
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

मेरे दुश्मन भी मेरे मुरीद है शायद
वक़्त बेवक्त मेरा नाम लिया करते है
मेरी गली से गुज़रते हैं छुपा के खंजर
रु-ब-रु होने पर सलाम किया करते हैं
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

ना रूठना हमसे हम मर जायेगे
दिल की दुनीया तबाह कर जायेगे
मोहबत की हे हमने कोई मजाक नही,
दिल की धड़कन तेरे नाम कर जायेगे
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

बदलना आता नहीं हमे मौसम की तरह
हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं
ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक
कसम तुम्हारी तुम्हे हम इतना प्यार करते हैं.
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

Ab Bhi Taaza Hain Zakhm Seene Mein
Bin Tere Kya Rakha Hain Jeene Mein
Hum To Zinda Hain Tera Sath Paane Ko
Warna Der Kitni Lgti Hai Zaher Peene Mein
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

ऐ सनम कभी प्यार मत करना
हो जाये तो इंकार मत करना
निभा सको तो निभा देना
लेकिन किसी की जिंदगी बरबाद मत करना
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

एक अजीब सा मंजर नजर आता है
हर एक आँसू संमनद नजर आता है
कहां रखुं मैं शीशे सा दिल अपना
हर किसी के हाथ में पत्थर नजर आता है
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

लाखो की हंसी तुम्हारे नाम कर देंगे
हर खुशी तुम पे कुर्बान कर देंगे
आये अगर हमारे प्यार मे कोई कमी तो कह देना
इस जिन्दगी को आखरी सलाम कह देंगे
Shayari Sangrah, शायरी संग्रह

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close